भारत में कितने राष्ट्रीयकृत बैंक है?

क्या आप जानना चाहते है की भारत में कितने राष्ट्रीयकृत बैंक है? तो आप बिल्कुल ठीक जगह पर आए है। इस आर्टिकल में आपको भारत के राष्ट्रीयकृत बैंकों की सूची मिलेगी। जिससे आप भारत के राष्ट्रीयकृत बैंकों के बारे में जानकारी प्राप्त कर पाएंगे।

इस आर्टिकल में आपको बताया जाएगा की भारत में कितने राष्ट्रीयकृत बैंक है? इसके साथ आपको भारत के राष्ट्रीयकृत बैंकों के बारे में जानकारी भी मिलेगी। अगर आप भी जानना चाहते है तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़े।

बैंकों का राष्ट्रीयकरण क्या है?

राष्ट्रीयकरण एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमे सरकार किसी निजी बैंक को खरीद कर अपने अधिकार में ले लेती है। इस प्रक्रिया को राष्ट्रीयकरण कहते है। राष्ट्रीयकरण के पीछे कई वजह होती है जैसे कृषि उद्योग को बढ़ावा देना, देश की आर्थिक वृद्धि के लिए, देश की अर्थव्यवस्था को बढ़ाने के लिए आदि।

भारत में 19 जुलाई 1969 को इंदिरा गाँधी सरकार ने 14 बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया था जिसमे शामिल है सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, बैंक ऑफ महाराष्ट्र, देना बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, सिंडिकेट बैंक, केनरा बैंक, इंडियन बैंक, इंडियन ओवरसीज बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा, यूनियन बैंक, अलाहबाद बैंक, यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया, यूको बैंक, बैंक ऑफ इंडिया आदि।

इसके बाद राजीव गाँधी सरकार ने 15 अप्रैल 1980 को 6 बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया थे इनमे जो बैंक शामिल थे वह यह है आंध्रा बैंक, कारपोरेशन बैंक, न्यू बैंक ऑफ इंडिया, विजय बैंक, ओरिएण्टल बैंक ऑफ कॉमर्स, पंजाब नेशनल बैंक आदि।

अगर आप बैंकों के विलय की सूची जानना चाहते है या फिर जानना चाहते है की किस बैंक का विलय किस बैंक में हुआ है तो आप हमारे इस आर्टिकल को पढ़ सकते है बैंकों के विलय की सूची

भारत के राष्ट्रीयकृत बैंकों की सूची।

क्रम संख्याराष्ट्रीयकृत बैंकमुख्यालयवर्तमान सीईओ
1बैंक ऑफ बड़ौदागुजरातश्री संजीव चड्डा
2बैंक ऑफ इंडियामुंबईअतानु कुमार दास
3बैंक ऑफ महाराष्ट्रपुणेश्री ए. एस. राजीव
4केनरा बैंकबैंगलोरलिंगम वेंकट प्रभाकर
5सेंट्रल बैंक ऑफ इंडियामुंबईश्री एम. वी. राओ
6इंडियन बैंकचेन्नईश्री शांति लाल जैन
7इंडियन ओवरसीज बैंकचेन्नई10 फरवरी 1937
7पंजाब नेशनल बैंकनई दिल्लीअतुल कुमार गोयल
9पंजाब एंड सिंध बैंकनई दिल्लीश्री एस. कृष्णन
10स्टेट बैंक ऑफ इंडियामुंबईश्री दिनेश कुमार खारा
11यूनियन बैंक ऑफ इंडियामुंबईराजकिरण राय जी.
12यूको बैंककोलकातासोमा शंकर प्रसाद का

भारत में कितने राष्ट्रीयकृत बैंक है?

बैंक ऑफ बड़ौदा

बैंक ऑफ बड़ौदा एक सार्वजनिक क्षेत्र का बैंक है जिसकी स्थापना 20 जुलाई 1908 को बड़ौदा के महाराजा सयाजीराव गायकवाड़ III ने की थी। इसकी पहली ब्रांच शाखा मांडवी, बड़ौदा में थी और इसका मुख्यालय अलकापुरी वडोदरा में है। बैंक ऑफ बड़ौदा के वर्तमान सीईओ श्री संजीव चड्डा है।

बैंक ऑफ बड़ौदा भारत में बैंक ऑफ बड़ौदा के 13,2 करोड़ से ज्यादा ग्राहक है। इसके देशभर में 8185 शाखाएं और 13400 एटीएम है। अगर आप बैंक ऑफ बड़ौदा के बारे में अधिक जानकार प्राप्त करना चाहते है तो आप इस आर्टिकल को पढ़ सकते है। बैंक ऑफ बड़ौदा की जानकारी

बैंक ऑफ इंडिया

बैंक ऑफ इंडिया भारत का एक राष्ट्रीयकृत बैंक है जिसकी स्थापना 7 सितम्बर, 1906 को मुंबई में प्रतिष्ठित व्यापारियों के एक समूह के द्वारा हुई थी। इसकी पहली शाखा मुंबई में थी। इसके बाद सन 1969 में 13 अन्य बैंको के साथ विलय कर इसका राष्ट्रीयकरण किया गया था।

वर्तमान में बैंक ऑफ इंडिया के सीईओ अतानु कुमार दास है। बैंक ऑफ इंडिया की वर्तमान में 5,108 से ज्यादा ब्रांचे और 5,551 से अधिक एटीएम है।

बैंक ऑफ महाराष्ट्र

बैंक ऑफ महाराष्ट्र भारत का राष्ट्रीयकृत बैंक है। बैंक ऑफ महाराष्ट्र की स्थापना वी.जी.काले और डी.के.साठे ने पुणे, भारत में की थी। बैंक ऑफ महाराष्ट्र 16 सितंबर 1935 को 1 मिलियन अमेरिकी डॉलर की अधिकृत पूंजी के साथ पंजीकृत हुआ और 8 फरवरी 1936 को चालू हुआ था। बैंक ऑफ महाराष्ट्र का महाराष्ट्र राज्य में किसी भी राष्ट्रीयकृत बैंक की शाखाओं का सबसे बड़ा नेटवर्क है।

केनरा बैंक

केनरा बैंक भारत के बड़े राष्ट्रीयकृत बैंकों में से एक है जिसकी स्थापना जुलाई 1906 में श्री अम्मेम्बल सुब्बा राव पाई ने मैंगलोर में की थी। इसके बाद सन 1969 में केनरा बैंक का राष्ट्रीयकरण किया गया था।

केनरा बैंक की टैगलाइन है “एकसाथ हम कर सकते है”। केनरा बैंक ने 2006 में एक सदी को पूरा कर लिया है। केनरा बैंक की वर्तमान में 9,877 शाखाएं और 11,819 एटीएम है।

सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया

सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया भी भारत का एक जाना माना राष्ट्रीयकृत बैंक है। सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की स्थापना सन 1911 में सर सोराबजी पोचखानावाला के द्वारा हुई थी। यह भारत का पहला भारतीय वाणिज्यिक बैंक था। वर्तमान में सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की 4,608 शाखाएं और 3,644 एटीएम है।

इंडियन बैंक

इंडियन बैंक एक राष्ट्रीयकृत बैंक है जिसकी स्थापना सन 1907 में S. Rm. M. Ramaswami Chettiar के द्वारा हुई थी। इंडियन बैंक का मुख्यालय चेन्नई में है। इंडियन बैंक के भारत में 10 करोड़ से अधिक ग्राहक है। इसके साथ इंडियन बैंक में 41,620 कर्मचारियों काम करते है। इसकी 5,744 शाखाएं और 5,428 एटीएम है।

30 अगस्त 2019 को भारतीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा की गई घोषणा के अनुसार, इलाहाबाद बैंक का 1 अप्रैल 2020 को विलय हो गया था जिससे इंडियन बैंक अब देश का सातवां सबसे बड़ा बैंक बन गया है।

इंडियन ओवरसीज बैंक

इंडियन ओवरसीज बैंक भारत का एक राष्ट्रीयकृत बैंक है। इसकी स्थापना एम.सी.टी.एम. चिदंबरम चेट्टियार के द्वारा 10 फरवरी 1937 को की गई थी। इसके बाद सन 1969 में इंडियन ओवरसीज बैंक का राष्ट्रीयकरण कर दिया गया था। इंडियन ओवरसीज बैंक ने एक साथ कराईकुडी, चेन्नई और बर्मा में रंगून और उसके बाद पेनांग, मलेशिया में कारोबार शुरू किया था।

पंजाब नेशनल बैंक

पंजाब नेशनल बैंक भारत का दूसरा सबसे बड़ा राष्ट्रीयकृत बैंक है। पंजाब नेशनल बैंक की स्थापना दयाल सिंह मजिठिआ और लाला लाजपत राय ने सन 1894 में लाहौर पेशावर (वर्तमान में पाकिस्तान में) में स्वदेशी आंदोलन के एक ऑफ-शूट के रूप में की गई थी।

साल 1947 के देश विभाजन से पहले ही पंजाब नेशनल बैंक ने जून 1947 में लाहौर से दिल्ली स्थानांतरित कर दिया था। पंजाब नेशनल बैंक के भारत में 10 8 करोड़ से ज्यादा ग्राहक है। पंजाब नेशनल बैंक की देश भर में 12,248 शाखाएं और 13,000+ एटीएम है।

पंजाब एंड सिंध

पंजाब एंड सिंध भी भारत का राष्ट्रीयकृत बैंक है। पंजाब एंड सिंध बैंक बैंक की स्थापना सन 1908 में भाई वीर सिंह, सर सुंदर सिंह मजीठा और सरदार तरलोचन सिंह ने मिलकर पंजाब क्षेत्रों की सेवा के लिए की गई थी।

पंजाब एंड सिंध बैंक की 1526 शाखाएँ हैं जो व्यापक रूप से पूरे भारत में फैली हुई हैं इनमे से 635 शाखाएँ पंजाब राज्य में ही हैं।

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया भारत का सबसे बड़ा राष्ट्रीयकृत बैंक है। अखिल भारतीय ग्रामीण ऋण सर्वेक्षण समिति (All India Rural Credit Survey Committee) ने इंपीरियल बैंक ऑफ इंडिया का अधिग्रहण करके एक राज्य-भागीदार और राज्य-प्रायोजित बैंक के निर्माण की सिफारिश की।

इस प्रकार सन1955 में संसद में एक अधिनियम पारित किया गया और 1 जुलाई 1955 को भारतीय स्टेट बैंक का गठन किया गया। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की भारत में 22,219 शाखाएं और 62,617 एटीएम है।

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया भारत का एक राष्ट्रीयकृत बैंक है। यूनियन बैंक ऑफ इंडिया की स्थापना सेठ सीताराम पोद्दार ने सन 1919 में की थी। बैंक के कॉर्पोरेट कार्यालय का उद्घाटन महात्मा गांधी ने किया था।

इसके बाद सन 1969 में भारत सरकार ने यूनियन बैंक का राष्ट्रीयकरण कर दिया। यूनियन बैंक ऑफ इंडिया की देशभर में 9,316 शाखाएं और 12,957 एटीएम है।

यूको बैंक

यूको बैंक भी एक भारत का राष्ट्रीयकृत बैंक है। यूको बैंक की स्थापना जी. डी. बिरला के द्वारा 1943 में की गई थी। उस समय इसका नाम यूनाइटेड कमर्शियल बैंक था। यूको बैंक ने पूरे भारत में एक साथ 14 शाखाएँ खोली थी।

यूको बैंक में वर्तमान में 22,012 से अधिक कर्मचारी काम करते है। यूको बैंक की देशभर में 3,078 शाखाएं और 2,564 एटीएम है।

FAQs

भारत सरकार द्वारा पहली बार कब और कितने बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया गया?

भारत सरकार द्वारा सन 1969 में 14 बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया गया था।

वर्तमान में भारत में कितने राष्ट्रीयकृत बैंक है?

वर्तमान में भारत में कुल 12 राष्ट्रीय कृत बैंक है।

मुझे उम्मीद है की यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी रहा होगा। और अब आप समझ गए होंगे की राष्ट्रीयकृत बैंक क्या है? भारत में कितने राष्ट्रीयकृत बैंक है? अगर अब भी आपका राष्ट्रीयकृत बैंक से सम्बंधित कोई भी सवाल है तो आप हमे नीचे कमेंट करके पूछ सकते है।

यह भी पढ़े

Bank dar ka arth hai

सेविंग अकाउंट क्या होता है

क्या बैंक में पैसा सुरक्षित है

सेविंग अकाउंट में कितना ब्याज मिलता है

सेविंग अकाउंट में कितना पैसा रख सकते हैं

Authored By Prabhat Sharma
Howdy Guys, I am Prabhat, A full time blogger. I am the founder of the Bank Madad.com. I love to share articles about Banking & Finance on the Internet.

Leave a Comment

हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़े

बैंकिंग और वित्त से जुडी ताज़ा जानकारी अपने मोबाइल में पाने के लिए हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़े